राज्य कृषि प्रबन्ध संस्थान

रहमानखेड़ा, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

रेज्ड बेड प्लांटर

  • इस प्लांटर के द्वारा बेड पर दो या तीन लाइन बीज एवं खाद की बुवाई की जाती है।
  • इस मशीन के द्वारा 25 प्रतिशत खाद एवं बीज की बचत होती है।
  • इस प्लांटर द्वारा 30 प्रतिशत सिचांई जल की बचत होती है।
  • कम खरपतवार उगतें है।
  • इस मशीन के प्रयोग से मृदा में नमी संरक्षण को बनाये रखता है।
  • इस प्लांटर के द्वारा बुवाई करने के बाद निकाई गुड़ाई आसानी से की जा सकती है।
  • इस प्लांटर का अविष्कार पंजाब एंग्रीकल्चर यूनीर्वसिटी लुधियाना द्वारा किया गया है।
  • इस प्लांटर के द्वारा बुवाई करने के लिए 35 एच0पी0 से ज्यादा ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है।