राज्य कृषि प्रबन्ध संस्थान

रहमानखेड़ा, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

मल्टी कैप्स प्लॉन्टर

  • इस प्लॉन्टर का प्रयोग अधिकतर दलहनी फसलो की बुवाई के लिए प्रयोग किया जाता है।
  • इस यन्त्र के द्वारा मूंगफली, सोयाबीन, चना, मटर, मक्का एवं गेहूं इत्यादि फसलो की बुवाई की जा सकती है।
  • इस यन्त्र का प्रयोग सह-फसली खेती के लिए प्रयोग किया जाता है।
  • इस प्लॉन्टर के द्वारा लाइन से लाइन के बीच की दूरी एवं बीज से बीज की दूरी आसानी से बनाये रखे जा सकती है।
  • इस मशीन से एक ही गहराई पर बीज बोने से समय पर अच्छा जमाव होता है साथ ही साथ समय की बचत भी होती है।
  • लाइन में फसल होनें के कारण सिंचाई, निराई, कटाई आदि आसानी से होती है।

मल्टी क्राप प्लॉन्टर चलाते समय बरती जानें वाली सावधानियां:-

  • बीज और खाद अपनें-अपनें पूर्व निर्धारित स्थान पर ही बोये जायें तथा नलियों में कोई रूकावट न हो जिससे खाद या बीज गिरनें में असुविधा उत्पन्न हों।
  • खाद दानेंदार प्रयोग किया जाय।